बिहार में 11 से 13 जनवरी तक भारी बारिश और ओले गिरने के आसार |अलर्ट जारी।

मौसम विभाग के अनुसार पूर्वी भारत मे पश्चमी विलोब के सक्रिय होने के कारण भारी बारिश होने के आसार हैं जिसका प्रभाव बिहार के उत्तर पश्चिम एवं दक्षिण पश्चिम भाग में ज्यादा देखने को मिलेगा। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी करते ही बताया की 11 जनवरी को दक्षिण मध्य एवं दक्षिण पूर्व भाग के एक या दो स्थानों पर ओले गिरने और बारिश होने की संभावना है और 13 जनवरी को भी इसी प्रकार की स्थिति बनी रहेगी।

लगातार सर्द मौसम के बाद शनिवार को सुबह धूप निकलने के बाद से लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिली, लेकिन दोपहर बाद बादल छाने से ठंड का असर देखने को फिर से मिला। मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार, प्रदेश में पछुआ एवं दक्षिण पछुआ हवा का प्रवाह सतह से 1.5 किमी ऊपर बना है। वहीं, दिन व रात के तापमान में कोई विशेष परिवर्तन नहीं होगा।

अगवानपुर (सहरसा) 10.5 डिग्री सेल्सियस के साथ प्रदेश का सबसे ठंडा शहर रहा। वहीं, 27.0 डिग्री सेल्सियस शेखपुरा का अधिकतम तापमान दर्ज किया गया। प्रदेश का औसत न्यूनतम तापमान 12 से 14 तो अधिकतम 23 से 25 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। वहीं, वाल्मीकि नगर में 0.5 मिमी बारिश दर्ज की गई। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान राजधानी के तापमान में अंतर देखने को मिला। पटना के अधिकतम तापमान में सामान्य से दो ज्यादा 23.4 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम में सामान्य से पांच अधिक 13.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, गया के न्यूनतम तापमान सामान्य से चार अधिक 12.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

जनवरी में अब तक बारिश का अनुपात सामान्य रहा है. अगर अगले तीन दिन बारिश सामान्य से ज्यादा रही, तो खेती पर अच्छा प्रभाव पड़ सकता है. लेकिन, ओलावृष्टि की वजह से फसलों को नुकसान पहुंच सकता है। बताया जा रहा है की एक बार फिर 13 जनवरी के बाद कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना है।

Akanksha singh