बिहार में आए बाढ़ से, 16 जिलों में बाढ़ का पानी और 32 लाख हुए पीड़ित

हम जानते है की बिहार राज्य में बाढ की क्या दसा है। तो वही बिहार राज्य में पूर्णिया भी मंगलवार को बाढ़ की चपेट में आने वाले जिलों में शामिल हो गया है । और इसके साथ ही अब बिहार के 16 जिलों में 32.29 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हो चुके हैं । वहीं कहा जा रहा की अब तक बिहार में बाढ़ की वजह से करीब 16 लोगों की मौत होने की पुष्टि कि जा रही है। इन मृतकों को जिनकी मौत बाढ़ की वजह से हुई है उन्हें अनुग्रह सहायता अनुदान के तहत चार-चार लाख रुपये दिये जायेंगे। आपको बता दे की आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार मुजफ्फरपुर, दरभंगा, खगड़िया, सहरसा, पटना, वैशाली,मुंगेर, वैशाली, भोजपुर, लखीसराय, भागलपुर, सारण, बक्सर, बेगूसराय, कटिहार,पूर्णिया और समस्तीपुर के 96 प्रखंडों की कुल 670 पंचायत आंशिक व पूर्ण रूप से बाढ़ से प्रभावित हो चुकी है। अगर हम पटना के बाढ़ की बात करे तो पटना जिले में उपास्थि गंगा का उफान धीरी-धीरे कम हो रहा है। वही पटना के हर क्षेत्र में जमा बाढ़ का पानी हर जगह से लगातार घटना शुरू हो गया है । और अगर इसी तरह बाढ़ के पानी का जल स्तर घटता रहा, तो पटना में एक सप्ताह में स्थिति सामान्य हो जायेगी । वही अगर मंगलवार की बात करे तो हम पायेंगे की गंगा, सोन व पुनपुन नदी का जल स्तर पहले की जलस्तर के मुताबिक लगभग कम हो गया है । वही गांधी घाट में सोमवार को जल स्तर 43.52 मीटर था, लेकिन मंगलवार को यह 43.46 मीटर में बदल गया । इसके अलावा दीघा लॉक और दीघा घाट में जल स्तर रविवार की अपेक्षा सोमवार को कम हुआ है। इस बाढ़ की वजह से लोगो को कई तरह की परेसानियों का सामना करना पर रहा।और इस वजह से लोगों का जीवन अस्त व्यस्त हो चुका है।

News by Pragya Kumari