बिहार सरकार ने अनलॉक -4 के मुकाबले अनलॉक-5 में लोगो के लिए राहतों का दायरा काफी बढ़ा दिया है। यह नया नियम सात जुलाई से छह अगस्त 2021 तक लागू की गयी है।सरकार ने सात जुलाई से 11वीं कक्षा से ऊपर के सभी स्कूल-कॉलेज, तकनीकी शिक्षण संस्थान व प्रशिक्षण संस्थान 50% उपस्थिति के साथ खोलने की अनुमति दे दी है। परंतु सभी शिक्षण संस्थानों को कोरोना प्रोटोकॉल और सोशल डिसटनसिंग का सख्ती से पालन करना होगा। अनलॉक-5 में लोग रेस्टोरेंट-ढाबों में भी बैठकर भोजन कर सकेंगे, लेकिन यहां भी उपस्थिति केवल 50% ही होनी चाहिए और कोरोना से जुड़ी गाइडलाइन का पालन करना अनिवार्य होगा।वही होम डिलिवरी का समय सुबह नौ बजे से रात नौ बजे तक की गयी है। बिहार सरकार ने बाजार-दुकानों के खुलने के समय पहले की तरह ही सुबह छह बजे से शाम सात बजे तक किये गए है।दवा, किराना, कृषि संबंधित समेत अन्य सभी जरूरी सामग्री की दुकानों को छोड़कर शेष दुकानें पहले की तरह अल्टरनेट-डे की व्यवस्था के तहत ही खोली जायेगी।मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में ऑनलाइन माध्यम से हुई आपदा प्रबंधन समूह की विशेष बैठक में यह निर्णय लिये गये है जिसकी जानकारी मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर दी। वही मुख्य सचिव त्रिपुरारि शरण, डीजीपी एसके सिंघल और गृह विभाग के सचिव के सेंथिल कुमार ने संयुक्त रूप से प्रेस वार्ता कर अनलॉक-5 के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी। मुख्यमंत्री ने सिनेमा हॉल और शॉपिंग मॉल को बन्द रखने का ही निर्देश दिया और रात्रि कर्फ्यू का, समय राज्य में रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक जारी रहेगा। सार्वजनिक महोत्सव पर मनाही की गयी है। वहीं सरकारी और निजी कार्यालय सामान्य दिनों की तरह ही खुलेंगे. इनमें सिर्फ उन्हीं बाहरी लोगों के प्रवेश की अनुमति होगी, जिन्होंने वैक्सीन ले ली है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि रेस्टोरेंट-होटल के कर्मियों को कोरोना वैक्सीन लेना अनिवार्य है । इन सब के अलावा सभी पार्क और उद्यान के खुलने का, समय सुबह छह बजे से दोपहर 12 बजे तक है। बिहार में शादी और श्राद्ध में अब 50 लोगों को शामिल करने की अनुमति दी गयी है। परंतु शादी में डीजे और जुलूस या बारात निकालने की अनुमति नहीं दी गयी है। इन तमाम छूटों के बीच सभी दुकानों या प्रतिष्ठानों के लिए कोरोना से जुड़े सभी नियमों का सख्ती से पालन करना अनिवार्य होगा। सभी को मास्क पहनना, लोगों के लिए दुकानों के काउंटर पर सैनिटाइजर रखना और खड़े होने वाले लोगों के लिए दो गज की दूरी को बनाये रखना शामिल किया गया है। उल्लंघन कर्म वाले दुकान या प्रतिष्ठान पर सख्त कार्रवाई की जायेगी। वही वाहनों के आवागमन पर रोक पर की रोक नही लगाई गयी है। परंतु नाइट कर्फ्यू में केवल सेवा वाहन ही चलेंगे। वैसे लोग जिन्हे देर रात ट्रेन या बीमान से जाना हो उनके पास टिकट होना अनिवार्य है। मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने अभी भी कोरोना गाइड लाइन का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया गया है ।

News by

Pragya Kumari